India's Top Hindi Blog For Quotes, Hindi Stories

Friday, 6 April 2018

Mosquito Children Poem In Hindi

इससे पहले Article में हमने Altaf Ziya Shayari पढ़ी थी आज हम Chidren Poem पढेंगे. इससे पहले बहुत सी बच्चो की कवितायेँ हमने पढ़ी कलम Hindi Poem और भी बहुत सारी कवितायेँ है आप पढ़ सकते है.

Children Hindi Poem

mosquito-children-poem-hindi


बच्चो मैं हूँ कला मच्छर 
सबको लगता मुझसे डर

सुई चुभोता हु मैं बदन में
आग सी लग जाती है तन में

मेरी दुश्मन मच्छर दानी
मेरा घर है गन्दा पानी

उसमे पीला मछर के अंडे
जिनसे निकले चीते बच्चे

पीते है वो खून तुम्हारा
खून है सब का गुज़ारा

कानो में हु साज़ बजता
मुफ्त में इंजेक्शन लगाता

बच्चो मुझसे रहना बचकर
फैलाऊ बिमारी घर घर

मच्छर मार दवाये लाओ
फिर इन सब को मार भगाओ

मच्छर हिंदी कविता

Baccho main hoo kala machhar
Sabko lagta hai mujhse dar

Sui chubhota hu mai badan me
Aag si lag jati hai tan me

Meri Dushman Machhar dani
Mera ghar hai ganda paani

Usme pale machhar ke ande
Jinse nikle chote bachhe

Peete hai wo khoon tumhara
Khoon par hai un sab ka guzara

Kano me hu saaz bajata
Muft me injection lagwata

Baccho mujhse rahna bachkar
Failau bimaari ghar ghar

Machhar maar dawaye lao
Phir in sab ko maar bhagao

0 comments:

Post a Comment

Popular Posts

Recent Posts

Follow by Email