India's Top Hindi Blog For Quotes, Hindi Stories

Thursday, 16 May 2019

Ali Zaryun Hindi Shayari Gazal हालत जो हमारी है तुम्हारी तो नही

अली जर्युन की शायरी को आपने नही पढ़ा तो आपने आशिकी का मज़ा भी पूरे सही ढंग से नही लिया वैसे तो हो हि नही सकता की आपने Ali Zaryun Ki Shayari Aur Gazlon को ना पढ़ा हो. आपने उनका शेर कही ना कही तो पढ़ा ही होंगा. आज मैं लेकर आया हु अली ज़र्युन की एक ग़ज़ल हालत है हमारी तुम्हारी तो नही है.

ali zaryun shayari gazal


अली ज़र्युन हिन्दी गज़ल हालत जो हमारी है तुम्हारी तो नही

हालत जो हमारी है तुम्हारी तो नही है
ऐसा है तो फिर ये कोई यारी तो नही है

जितनी भी बना ली हो कमा ली हो ये दुनिया
दुनिया है तो फिर दोस्त तुम्हरी तो नही है

तहकिर ना कर ये मेरी उधडी हुयी गठरी की
जैसी भी है अपनी है उधारी तो नही है

ये तू जो मोहब्बत में सिल मांग रहा है
ऐ शख्स तू अन्दर से भिकारी तो नही है

मैं ज़ात नही बात के नशे में हु प्यारे
इस वक़्त मुझे तेरी खुमारी तो नही है

तन्हा ही सही लड तो रही है वो अकेली
बस थक के गिरी है अभी हारी तो नही है

मजमे से उसे यु भी बहुत चिड है के जर्युन
आशिक है मेरी जान मदारी तो नही है

Waseem Barelvi Poem

Ali Zaryun Gazal Haalat Jo Hamari Hai

Halat jo hamari hai tumhari to nahi hai
Aisa hai to phir ye koi yaari to nahi hai

Jitni bhi bana li ho kama li ho ye duniya
Duniya hai to phir dost tumhari to nahi hai

Tehkeer na kar ye meri udhri huyi gathri ki
Jaisi bhi hai apni hai udhaari to nahi hai

Ye tu jo Mohabbat me sila maang raha hai
Ae shakhs tu andar se bhikari to nahi hai

Mai zaat nahi baat ke nashe me hu pyare
Is waqt mujhe teri khumari to nahi hai

Tanha hi sahi lad to rahi hai wo akeli
Bas thak ke giri hai abhi haari to nahi hai

Majme se use yu bhi bahut chid hai ke zaryun
Aashiq hai meri jaan madaari to nahi hai

Ali Zaryun आशिकों का शायर की शायरी आपको कैसी लगी comment में हमें बताये और अपने दोस्त और रिश्तेदारों के साथ share करना ना भूले.

Altaf Ziya Gazal In Hindi
Hindi Shayari Collection
Altaf Ziya Shayari

0 comments:

Post a Comment

Popular Posts

Recent Posts

Follow by Email