India's Top Hindi Blog For Quotes, Hindi Stories

Tuesday, 25 June 2019

माँ पर कविता Best Poem On Mother In Hindi

माँ पर बहुत सी कविताये आपने पढ़ी होंगी आज मैं मां पर नयी कविता लेकर आया हु जो आपको बहुत पसंद आयेंगी। Maa तो अनमोल है सिर्फ कवितायें लिखने से Maa का हक अदा नही हो सकता। वैसे तो बहुत से शायरों ने माँ पर कविताये लिखी है लेकिन शायर मुनव्वर राना साहब ने जो लिखा है वो अनमोल है आपको उन्हें भी ज़रूर पढना चाहिए इस कविता के शायर ने भी बहुत अच्छा पर्यास किया है उम्मीद है आपको Maa पर यह कविता बहुत पसंद आएँगी।

माँ अगर है तो समझो दौलत है
वरना दुनिया में सिर्फ ज़िल्लत है

बच्चो मां एक अज़ीम हंसती है
माँ के दम से ही मौज है मस्ती है

मां बहुत महरबान होती है
माँ में बच्चो की जान होती है

एक आहट पर दौड़ आती है
भाग कर फिर गले लगाती है

ये समन्दर है ये ही साहिल है
बच्चो माँ ही तुम्हारी मंजिल है

मां ना हो तो वीरान है दुनिया
जैसे कब्रस्तान है दुनिया

प्यार है इश्क है मोहब्बत है
मां एक ऐसी हसीं नेमत है

मां ही चलना तुम्हे सिखाती है
ये बुलंदी पर लेकर जाती है

मां के दम से दुनिया रौशन है
माँ के होने से घर भी गुलशन है

फर्ज तुम पर भी मां की खिदमत है
माँ के क़दमो के नीचे जन्नत है

Maa agar hai to samjho daulat hai
Warna duniya me sirf zillat hai

Bachhon ek azeem hasti hai Maan
Maa ke dam se hi mauj masti hai

Maan bahut maharbaan hoti hai
Use me bachho ki jaan hoti hai

Ek aahat pe bhaag aati hai
Bhaag kar phir gale lagati hai

Ye samandar hai ye hi sahil hai
Bachho yahi tumhari manzil hai

Maa na ho weeran hai duniya
Jaise qabrastan hai duniya

Pyar hai ishq hai mohabbat hai
Maa ek aisi haseen nemat hai

Maa hi chalna tumhe sikhati hai
Ye bulandi pe le ke jati hai

Maa ke dam se duniya raushan hai
Maa ke hone se ghar bhi raushan hai

Farz tum par bhi maa ki khidmat hai
Maa ke qadmo ke neeche jannat hai

0 comments:

Post a Comment

Popular Posts

Recent Posts

Follow by Email