India's Top Hindi Blog For Quotes, Hindi Stories

Friday, 8 March 2019

Altaf Ziya Gazal Lyrics In Hindi मुझमे एक मौज थी

Last Post में Sad Quotes In Hindi पढ़े थे आज हम Altaf Ziya Gazal Lyrics पढेंगे. इससे पहले भी हम अल्ताफ जिया की ग़ज़ल मुझको अपना बना चुकी हो क्या पढ़ी थी जो आपको बहुत पसंद आई थी आज की ग़ज़ल आपको कैसी लगी हमें comment में बताये उम्मीद है Altaf Ziya Ki Mujhme Ek Mauj Thi Gazal आपको पसंद आयेंगी.

altaf-ziya-gazal-lyrics

Altaf Ziya Gazal - Mujhme Ek Mauj Thi

Mujhme ek mauj thi be jaan kaha tha pahle
Doob jana mera aasaan kaha tha pahle

Wo bhi kya din the ki ham khul ke mila karte they
Aaino se main pashemaan kaha tha pahle

Isse pahle bhi main is raah se guzar chuka hu
Magar rasta itna aasaan kaha tha pahle

Mere Dushman tera ye ahesaan hai mujhpar warna
Apne aibon par mera dhyan kaha tha pahle

Waseem Barelvi Best Shayari

मुझमे एक मौज थी ग़ज़ल Lyrics अल्ताफ जिया  

मुझमे एक मौज थी बे जान कहा था पहले
डूब जाना मेरा आसान कहा था पहले

वो भी क्या दिन थे की हम खुल के मिला करते थे
आइनों  से मैं  पशेमां  कहा था पहले

इससे पहले भी मैं इस राह से गुज़र चूका हु
मगर रास्ता इतना आसान कहा था पहले

मेरे दुश्मन तेरा ये अहेसान है मुझपर वरना
अपने ऐबों पर मेरा ध्यान कहा था पहले

Judaai Gazal In Hindi
Waseem Barelvi Ki Shayari
Hindi Shayari Collection

Saturday, 9 February 2019

35 Best Sad Quotes, Sad Love Thoughts In Hindi

After Hindi Poems And Hindi Stories we are going to reading Sad Quotes In Hindi. I feel Happy Or Sadness In Our Life. Without Sadness the meaning of happiness are not completed. Today we read Sad Love Thoughts In Hindi.

sad quote in hindi

Sad Quotes In Hindi

मुझे अपने पास के लोग अच्छे नहीं लगते. मुझे लोगों को खुश करना अच्छा लगता है.
Tyler-The Creator
जिन्दगी चल रही है आपके साथ भी आपके बगैर भी.
Faraaz Kazi 

मैं उदासी से प्यार करता हु. उदासी किसी भी चीज़ से ज्यादा महसूस कराती है.
Jeff Ament
प्यार न करना दुःख की बात है. लेकिन प्यार ना कर पाना बहुत दुखी बात है.
Miguel de Unamuno
आज का अच्छा समय कल के उदास विचार है.
Bob Marley
आज रात सर्वाधिक उदासी भरी पंक्तियां लिखी जा सकते है "मैं उससे प्यार करता था और कभी कभी वो भी मुझसे प्यार करती थी.

पहले दुःख को स्वीकार करे. यह अच्छी तरह समझ ले की हार के बिना जितना इतना महान नहीं है.
Alyssa Milano
समय के पंखो पर एक दिन उदासी उड़ जाती है.

जितनी लम्बी और अधिक सावधानी से हम एक funny कहानी को देखते है उतने ही हम उदास और दुखी हो जाते है.

आंसू वो शब्द है जिन्हें लिखने की आवश्यकता है.

हम एक परिपूर्ण आनंद का स्वाद कभी नहीं लेते हमारी सफलताएं दुःख के साथ मिश्रित होती है.
Pierre Corneille
जबान और कलम के सभी उदास शब्दों में से एक शब्द " यह हो सकता है ".

गहरी उदासी में भावुकता के लिए कोई जगह नहीं होती.

Sad Love Thoughts In Hindi


hindi sad quotes


हमारे प्यारे गीत वो है जो दुखी विचारों के बारे में बताते है.
Persi Bysshe Shelley
कभी कभी सोचता हु काश मैं बच्चा होता. टूटे हुये दिलो कि तुलना में घुटनों को मोड़ना आसान होता है.

दुःख भी एक तरह का बचाव है.

हम उदास दुख महसूस कर सकते है लेकिन हम हार नहीं मान सकते.
Patrisse Cullors
कुछ भी हमेशा एक जैसा नहीं रहता. आप हमेशा खुश नहीं रह सकते तो आप हमेशा उदास भी मत रहो.

एक दुखी सच्चाई यह भी है की मौका दोबारा नहीं मिलता.

प्यार करने और खो जाने से अच्छा है की कभी भी हार ना माने.
Samuel Butler
आंसू दिल से आते है दिमाग से नहीं.
Leonardo DaVinci
ख़ुशी यह शब्द अपना मतलब खो देता अगर यह उदासी से संतुलित नहीं होता.
Carl Jung
आपका दर्द उस खोल का टूटना है जो आपकी सोच समझ को घेरता है.
Khalil Gibran
चाहे हम कितना भी पर्यास करे , कितना भी चाहे कुछ कहानियो का सुखद अंत नहीं होता.

आप उस व्यक्ति का चहेरा कभी नहीं भूलेंगे जो आपकी आखरी उम्मीद हो.
Suzanne Collins
किसी से बहुत ज्यादा लगाव ना हो. लोग हमेशा छोड़ जाते है.

अगर आप कभी किसी से कोई उम्मीद नहीं रखते तो आप निराश नहीं होंगे.

दिल तो टूटने के लिये ही बना है.
Oscar Wilde
हमारे पास खोया हुआ और खोने के लिये कुछ नही नहीं है.
Joy Harjo
यहाँ हर दिन दर्द होता है किसी की कमी जो कभी साथ थी.
Marie Lu
अब गिनने के लिए बहुत दोषी रेखाएं है.

Hindi Sad Quotes


sad love quotes


सपनो का कोई मतलब नहीं है. वो सिर्फ शोर कर रहे है वो असली नहीं है.

ज़िन्दगी में आप हर किसी से दो बार मिलते है. एक वो जब आते है दुसरे जब वो जाते है.
C.C. Aurel
मुझे ये भी याद नहीं की मैं आप पर ये सारे आंसू क्यों बर्बाद कर रहा हु.

ज़िन्दगी में किसे इतना ना चाहो की जब वो तुम्हे छोड़ जाए तो भूलना मुश्किल हो जाये.

Motivational Quotes Collection

Tuesday, 22 January 2019

मैं क्या हु ये बतलाऊ तुम Hindi Kavita Paheli

आज मैं लेकर आया हु एक कविता जिसका टाइटल आपको जीतना है.टाइटल बहुत simple है आपको जितने पर फेमस होनेका मौका है. इन्टरनेट पर मशहूर होना आसान नहीं हजारों लाखों लोगो में आप फेमस हो सकते है.
विजेता का नाम और पता और ब्लॉग है तो ब्लॉग का link पोस्ट के आखिर में  share किया जायेंगा इस कविता का शीर्षक आपको comment के माध्यम से बताना है. अपना ईमेल भी उपलब्ध करे ताकि हम विजेता होने पर आपसे संपर्क करेंगे.

मैं क्या हु ये बतलाओ तुम - पहेली

मैं क्या हु ये बतलाओ तुम
फिर घी और शक्कर खाओ तुम
मैं सब बच्चो का प्यारा हु
गर्मी सर्दी का सहारा हु
मिटटी चुना ईंट और पत्थर
है जमा ये सब मेरे अन्दर
वो देसी हो या परदेसी
हर एक की लौ है मुझ से लगी
मेरा हर कोना प्यारा है
कोठा है चौ बारा है
दालान है या वो कमरा है
हर कोना साफ़ सुथरा है
जो लोग भी मुझ में रहते है
दुःख सुख मिल कर सहते है
अम्मा भी है अब्बा भी है !
भाई भी है आपा भी है !
जब प्रेम से ये सब रहते है
आनंद के दरिया बहते है
कुर्बान बहन पर है भाई
वारी उस पर है माजाई
सब मुझसे उल्फत करते है
सब मेरा ही दम भरते है
मैं क्या हु ये बतलाऊ तुम
फिर घी और शक्कर खाओ तुम

Paheli - Main Kya hu batao

Main kya hu ye batlaao tum
Phir Ghee aur Shakkar khao tum
Main sab bachhon ka pyara hu
Garmi Sardi ka sahara hoon
Mitti chuna eent aur patthar
Hai jama ye sab mere andar
Wo desi ho ya pardesi
Har ek ki lau hai mujhse lagi
Mera har kona pyara hai
Kotha hai chaubara hai
Dalaan hai ya wo kamra hai
Har kona saaf suthra hai
Jo log bhi mujhme rahte hai
Dukh sukh milkar sahte hai
Amma bhi hai Abbu bhi hai
Bhai bhi hai aapa bhi hai
Jab prem se ye sab rahte hai
Aanand ke dariya bahte hai
Kurban bahan par hai bhai
Waari uspar hai maajaai
Sab mujhse ulfat karte hai
Sab mera hi dam bharte hai
Main kya hu ye batlao tum
Phir Ghee aur Shakkar khao tum

Thursday, 10 January 2019

लालची कुम्हार की कहानी - Lalach Buri Bala Hai Hindi Story

लालच की सजा पिछली पोस्ट में हम लालची ताजिर की कहानी पढ़ चुके है. आपने लालच पर बहुत सी कहानियाँ पढ़ी है मुझे पता है. लेकिन यह Short Story आप ज़रूर पढ़े उम्मीद है आपको यह कहानी पसंद आयेंगी. इस कहानी को आखिर तक पढ़े और इसे अपने दोस्तों के साथ share करना ना भूले. इस Story को पढ़कर हमें comment में बताये कहानी आपको कैसी लगी.

लालची कुम्हार - हिन्दी कहानी

           बहुत पुरानी बात है गाँव में एक कुम्हार रहता था। उसका नाम लाल देन था। उसके हाथ के मिटटी के बर्तन सारे गाँव में मशहूर थे गाँव के करीब एक नहर थी वो अपने बर्तनों के लिए मिटटी वही से लाता था। वह बहुत ग़रीब था लेकिन लालची भी था। उसे बर्तन बनाने में बहुत वक़्त लगता था और दिन ब दिन उसके बर्तनों की कीमत कम हो रही थी।

     एक दिन लाल देन अपने गधे के साथ मिटटी लेने जा रहा था दोपहर का वक़्त था वह जल्दी जल्दी उस जगह पर पहुँच गया जहा से वह मिटटी निकालता था। वहां पहुच कर उसने मिटटी खोदनी शुरू की। अभी ये खोद ही रहा था की उसे एक सुराख़ दिखाई दिया उसने और खोद कर सुराख बड़ा किया उस के अन्दर से निकलने वाली रौशनी देख कर वह दांग रह गया। उससे निकलने वाली रौशनी हीरो की थी।

     लाल देन कभी गधे को देखता तो कभी हीरों को देखता उसने हीरो को भरना शुरू किया वह काफी हिरे भर चूका था। कुछ ही देर में अचानक उसकी नज़र सांप पर पड़ी जो हीरो के बीच बैठा था। वो डर गया । मगर लालच था के कम ना होता उसने सोचा की कुछ और हीरे समेट लू। यह सोच कर उसने जैसे ही हीरो की तरफ अपना हाथ बढाया अचानक सांप ने उसे डस लिया सांप का ज़हर इतना था की वह मर गया और वह वही ढेर होगया। हीरो का खज़ाना वही पड़ा रह गया।

Moral Hindi Story For Student
Buraai Ka Anjaam Hindi Story
Modern Crow Real Story

Sunday, 30 December 2018

लालची ताजिर का अंजाम Lalach Par Hindi Story

आपने सुना होंगा लालच बुरी बला है आज और हम लालच का अंजाम पढ़ लेते है. इससे पहले बहुत सी कहानियाँ हम पढ़ चुके है लेकिन आज हम जो कहानी पढने जा रहे है उस Story का टाइटल लालची ताजिर है इस कहानी को पढ़ कर आपने कमेंट में बताना है की आपको यह कहानी से क्या सीख मिलती है।

लालची ताजिर Story In Hindi

             किसी गाँव में एक लालची ताजिर रहता था वो बहुत मालदार था लेकिन वो बहुत कंजूस था। एक दिन वो बाजार जा रहा था अपने साथ सौ अशरफिया भी ले जा रहा था। घर से कुछ दूर जाते ही उसकी जेब से अशरफियों की थैली कही गिर गई वो खाली हाथ बाजार पहुच गया। एक दुकान पर जाकर उसने कुछ खरीदी की मगर जैसे ही पैसे देने जेब में हाथ डाला तो जेब खाली पाकर परेशान हो गया और सारे बाजार में तलाश करने लगा लेकिन उसे कही कुछ ना मिला। वो बहुत परेशान होकर घर वापस आगया। घर आकर उसने अपनी बीवी से पुछा बीवी ने कहा : अशरफयों की थैली तुम बाज़ार ले गए थे उसके बाद मुझे पता नही।

      वो तु्रंत बाज़ार गया और ऐलान करवाया की जो मेरी अशरफयों की थैली ढून्ड कर देंगा उसे इनाम में उसे बीस अशरफया दी जाएँगी।

     इत्तेफाक से उन अशरफयों की थैली एक शरीफ आदमी को मिली वो ऐलान सुनकर उस ताजिर के पास आगया। थैली देकर अपना इनाम मांगने लगा।

     मगर ताजिर था कंजूस उसने कहा इस थैली में तो एक सो बीस अशरफियाँ थी तुम ने पहले ही अपना इनाम निकाल लिया है। उसकी बात सुनकर वो शख्स बोला मैंने तो इसे खोल कर भी नहीं देखि लेने की बात तो बहुत दूर !

लालच बुरी बला है हिन्दी कहानी

      इस बात पर दोनों में तू तू मैं मै हो गयी। ये तमाशा देख कर पास के लोगो ने उन्हें काजी ( जज ) के पास पहुंचा दिया। काजी फैसले में बहुत मशहूर था। दोनों ने अपनि अपनी बात सुनाई क़ाज़ी पूरी बात सुनकर उस पास खड़े आदमी से बोला आप इस थैली में बीस अशरफियाँ डाल दो। वो आदमी बीस अशरफी उस थैली में डालने लगा लेकिन बीस अशरफयों की जगह उस थैली में थी ही नहीं। थैली पहले ही पूरी भरी हुयी थी अब काजी ने अपना फैसला सुनाया :

     " ऐ ताजिर तुम झूट बोल रहे हो इस थैली में बीस अशरफयों की जगह है ही नही इसका मतलब ये है की ये थैली तुम्हारी है ही नहीं किसी और की है। तुम सौ अशरफयों वाली थैली इस आदमी को दे दो और एक सो बीस अशरफयों  वाली अपनी थैली कई और जगह तलाश करो।

     ये फैसला सुनकर ताजिर के होश उड़ गए और वो बीस अशरफियाँ देने के बदले पूरी सौ अशरफयों से हाथ धो बैठा। इसी लिये कहते है लालच बुरी बला है।

हर किसी को खुश नहीं किया जा सकता
Inspirational कहानी
हंसाने वाली कहानी

Tuesday, 18 December 2018

सच मूच की गुडिया और माँ Hindi Poem On Baby And Mother

कबूतर का जोड़ा Hindi Kavita पढने के बाद हम सच मच की गुडिया हिन्दी कविता पढने जा रहे है. यह कविता को हम कहानी समझ कर भी पढ़ सकते है बच्चो को इस कविता से moral भी मिलेंगा तो इस कविता को अपने बच्चो के साथ ज़रूर share करे मतलब की उन्हें भी सुनाये.

maa aur beti hindi poem

माँ बेटी की कविता

एक नन्ही मुन्नी गुडिया थी
सच मुच की वो पुडिया थी

था नाम उसका शहजादी
पर काम था उसका बर्बादी

वो घर की चीज़े तोडती थी
कोई चीज़ न अच्छी छोडती थी

अम्मी को मजबूर करती थी
पर दम अब्बू का भरती थी

अम्मी उसको समझती थी
पर दम अब्बू का ही भारती थी

अम्मी उसको समझती थी
तंग आकर हाथ उठाती थी

कोई बात ना उनकी सुनती थी
वो सर को अपने धुनती थी

एक दिन अब्बू ने समझाया
और प्यार से उसको बतलाया

बात अम्मी की गर मनोंगी
अच्छी बेटी बन जाओंगी

फिर प्यार करेंगे सब तुमको
और गुडिया कहेंगे सब तुमको

बात अब्बू ने जो समझाई
कुछ उसके समझ में आई

और बन गई वो अच्छी बच्ची
फिर बन गई गुडिया सच मुच की

हम बात बड़ों की गर माने
और सीधा रास्ता पहचाने

सूख दोनों जहाँ के पाए
और अच्छे बच्चे कहलाए

Hindi Poem - Maa Aur Beti


Ek nanhi munni gudiya tha
Sach much ki wo pudiya thi

Tha naam uska shahzadi
Par kaam tha uska barbadi

Wo ghar ki chize todti thi
Koi cheez na achhi chodti thi

Ammi ko majbur karti thi
Par dam abbu ka bharti thi

Ammi usko samjhati thi
Tang aakar haath uthati thi

Koi baat na unki sunti thi
Apne sar ko wo dhunti thi

Ek din abbu ne samjhaya
Aur pyar se usko batlaya

Baat ammi ki gar manongi
Achhi beti ban jaongi

Phir pyar karenge sab tumko
Aur gudiya kahenge sab tumko

Baat abbu ne jo samjhaai
Kuch baat uske samajh me aai

Aur ban gayi wo achhi bachhi
Phir ban gayi Gudiya sachmuch ki

Ham baat bado ki gar maane
Aur seedha raasta pahchane

Sukh dono jahaan ke paaye
Aur achhe bachhe kahlaaye

Sunday, 9 December 2018

कबूतर का जोड़ा हिन्दी कविता Hindi Poem On Pigeon

After Hindi Poem On Books And Winter Season we are reading Hindi Poem On Pigeon. Before we read many Hindi Poems Children Poems and Hindi Stories but today we are reading interesting Hindi Poem about Pigeon.
hindi poem on pigeon

कबूतर Hindi Poem


है नन्ही सी जान और इतनी अकड़ फु
गुटुर गु गुटुर गु गुटुर गु

जहा भी मिला दाना तिनका ना छोड़ा
कबूतर का जोड़ा कबूतर का जोड़ा

उड़े साथ दोनों तो देखो अदाएं
कभी ऊंचे नीचे कभी दाए बाएँ

फिजा झिलमिलाई ज़रा रुख जो मोड़ा
कबूतर का जोड़ा कबूतर का जोड़ा

कला बाजिया कैसी खाते है दोनों
जो तेज़ी से पर फडफडाते है दोनों

पर्दों की दमक जैसे बिजली का कोड़ा
कबूतर का जोड़ा कबूतर का जोड़ा

वो बच्चो को उड़ना सिखाने का फन
ऊंचाई पर गोता लगाने का फ़न

है डर बिल्लियो का मगर थोडा थोडा
कबूतर का जोड़ा कबूतर का जोड़ा

Hindi Poem On Pigeon

Hai nannhi si jaan aur itni akad fu
Gutur Gu Gutur Gu Gutur Gu

Jaha bhi mila dana tinka na choda
Kabutar ka joda kabutar ka joda

Ude saath dono to dekho adaen
Kabhi oonche niche kabhi daaen baaye

Fiza jhilmilaai jara rukh jo moda
Kabutar ka joda kabutar ka joda

Kala bajiya kaisi khaati hai dono
Jo tezi se par fadfadate hai dono

Pardo ki damak jaise bijli ka koda
Kabutar ka joda Kabutar ka joda

Wo bachhon ko udna sikhane ka fan
Oonchai par gota lagane ka fann

Hai darr billiyon ka magar thoda thoda
Kabutar ka Joda Kabutar ka joda

मोटापा क्यों है Hindi Poem
आओ मिल कर पेड़ लगाये Hindi Poem

Popular Posts

Recent Posts

Follow by Email